ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में पहले पेज पर कैसे लाएं (Search Post #1 Page)

ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में पहले पेज पर कैसे लाएं, Blog Post Ko Google Search Me pehale Page Par Kaise Laye?

नमस्कार दोस्तों जैसा कि हमने पहले की पोस्ट में पड़ा था, की "अपने वीडियो को यूट्यूब सर्च में उच्च रैंक कैसे प्राप्त करवाएं" और इस पोस्ट को पढ़ने के बाद हमने "ब्लॉग में सभी पोस्ट टाइटल के नीचे ऑटोमेटिक विज्ञापन शॉ कैसे करें" इस पोस्ट के बारे में पढ़ा था। और आज कि इस पोस्ट में हम जानने वाले हैं, की हम अपने ब्लॉग की पोस्ट मैं ऐसा क्या करें, कि हमारी पोस्ट गूगल सर्च में पहले पेज पर दिखाई देने लगे। तो दोस्तों इस पोस्ट को लास्ट तक पढ़े और पढ़ने का आनंद लें।

ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने का तरीका पोस्ट को पहले पेज पर कैसे लाएं पोस्ट सर्च #1 पेज गूगल स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी, Blog Post Ko Google Search Me First Page Par Kaise Laye, Google Search Post #1 page, Search Posts Seo Friendly Advance Ranking

वैसे कहा जाए तो ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में पहले पेज पर लाना बहुत ही कठिन है, लेकिन नामुमंकिन नहीं। आप अपनी पोस्ट को पहले पेज पर ला सकते हैं, अगर आप अपनी पोस्ट के लिए मेहनत करते हैं। और पोस्ट को SEO Friendly लिखते हैं, तो आपकी पोस्ट पहले पेज पर रैंक जरूर करेगी।

यह सब मेहनत का फल है, अगर आप मेहनत नहीं करेंगे, और अपनी साइट पर अधिक से अधिक डुप्लीकेट कंटेट या फिर कॉपी पेस्ट कंटेंट डालेंगे। तो आपकी पोस्ट Google Search में सबसे नीचे दिखाई देती रहेंगी, जिससे आपकी साइट पर कभी ट्राफिक नहीं बढ़ेगा। और 1 दिन आपको अपनी साइट बंद भी करनी पड़ सकती है।

और इस बात का हमेशा ध्यान रखें, कि अपने साइट पर कॉपी पेस्ट कभी ना करें। क्योंकि कॉपी पेस्ट कंटेंट को गूगल बहुत ही सीरियसली लेता है, जिसके कारण गूगल आपकी साइट को सपैम साइट में डाल सकता है। और फिर साइट को गूगल के सपेम से निकालने के लिए आपको काफी मेहनत करनी पड़ सकती है।

लेकिन हां आप ऐसा कर सकते हैं जैसे आप किसी ऐसी साइट पर गए और आपने वहां का कंटेंट पढ़कर दूसरी साइट पर गए वहां का कंटेंट पढ़ा और आप उन कंटेंट को देखकर अपनी साइट पर कंटेंट लिख सकते हैं। और उनसे बेहतर लिखे जो कमी उन्होनें अपने कंटेंट में छोड़ दी है, वह कमी आप अपनी साइट के कंटेंट में पूरी करें, ताकि गूगल आपके साइट कंटेंट को अधिक लाभदायक मानेगा, और उपयोगकर्ताओं को आप की पोस्ट पर अधिक से अधिक लाने की कोशिश करेगा। ताकि उन्हें उनके काम की सामग्री मिल सके।

इसीलिए अगर आप अपनी Blog पोस्ट को पहले पेज पर लाना चाहते हैं, तो आपको कॉपी पेस्ट कंटेंट से बचना होगा, नहीं तो आपकी साइट कभी भी गूगल पर अधिक रैंक प्राप्त नहीं कर पाएगी।

और इस बात का भी हमेशा ख्याल रखें, कि अगर आप ब्लॉगिंग में नए हैं तो आपकी साइट की पोस्ट पहले पहले बाकी सब साइट की पोस्ट से नीचे दिखाई दे सकती है। क्योंकि आप नए हैं। और वह ब्लॉगर जो आपसे काफी पुराने हैं, उनकी पोस्टें गूगल अधिक ऊपर दिखाएगा। क्योंकि गूगल को पता है, कि पुराने लोगों के लिखने का तरीका और समझाने का तरीका काफी अच्छा होता है। और नए वेबसाइटर का तरीका थोड़ा ठीक ठाक नहीं होता है। जिसके कारण गूगल आपके कंटेंट को कम रुचि कारक समझेगा, और पुराने वेबसाइटर की पोस्टों को गूगल विजिटर्स के लिए अधिक लाभदायक समझेगा।

भले आपको एक पोस्ट लिखने में काफी समय लगे, लेकिन हमेशा पोस्ट के कंटेंट को यूनिक ही रखें। और आप अपनी पोस्ट में जिस किसी टॉपिक के ऊपर जानकारी दे रहे हैं, उसकी पूरी से पूरी जानकारी दें। इससे क्या होगा, जब कोई विजिटर आपकी उस पोस्ट को पढ़ने के लिए आएगा। और वह आपकी पोस्ट को पढ़ने के बाद अगर वह दूसरी साइट की पोस्ट पर नहीं जाता है।

तो गूगल समझ लेगा, कि आपकी पोस्ट विजिटर्स के लिए काफी काम की रही है। और ऐसे ही धीरे-धीरे आपकी साइट की अथॉरिटी गूगल की नजरों में बनेगी, और गूगल आपकी साइट को धीरे धीरे ऊपर दिखाता जाएगा। नतीजा जैसे-जैसे आपकी साइट पुरानी होती जाएगी वैसे-वैसे आपकी साइट की पोस्टें गूगल पर काफी लोकप्रिय और अनुशांसित होगी।

और अगर आप ब्लॉगिंग में नए हैं, तो भी आप अपनी साइट पोस्टों को गूगल सर्च में बेहतर बनाने के लिए आप कुछ तरीकों को अपना सकते हैं। जैसे पोस्ट को SEO Friendly लिखना, पोस्ट में कस्टम यूआरएल SEO Friendly बनाना इमेज के लिए ALT TEXT यूज करना, Search Description में सही कीवर्ड का उपयोग करना जब आप इन सब SEO को अपनी हर पोस्ट के लिए पूरा करेंगे, तो फिर आप देखेंगे कि धीरे-धीरे आपकी साइट कैैैसे गूगल पर अच्छी रैंक प्राप्त कर लेगी।

तो आप अपने ब्लॉग की पोस्टों को SEO Friendly कैसे लिखेंगे, चलिए जानते हैं। नीचे की स्लाइड में।

पोस्ट को SEO Friendly लिखने के साथ-साथ जरूरी है, कि आपकी साइट पहले गूगल पर सबमित होनी चाहिए। अगर आपने अपनी site को गूगल सर्च कंसोल में नहीं जोड़ा है, तो इसे जरूर जोड़ें गूगल सर्च कंसोल मे साइट को जोड़ने के बाद गूगल आपकी साइट को सत्यापित कर लेता है। और उसे गूगल खोज नतीजों में दिखाना शुरू कर देता है, और साथ ही गूगल सर्च कंसोल में आप अपनी साइट की समस्याओं बारे में या फिर आपकी साइट गूगल सर्च कंसोल में कैसा प्रदर्शन कर रही है। इस बारे मेंं काफी अच्छेेे से जान पाएंगे

और इसके साथ साथ गूगल सर्च कंसोल के माध्यम से अपनी साइट को अच्छे से ऑप्टिमाइज कर पाएंगे, और अपनी साइट को गूगल सर्च में और अधिक दमदार व बेहतर बना पाएंगे। इसीलिए अपनी site को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ना न भूलें, और आपको अपनी साइट के प्रति अपना मालिकाना हक भी सत्यापित करना होगा, इसके बारे में आप यहां पर विस्तार से जान सकते हैं।

अब जब आप अपनी साइट को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ देंगे, और अपना मालिकाना हक सत्यापित कर लेंगे, तो आपको अपनी साइट में अच्छी से अच्छी SEO Friendly पोस्ट लिखनी है, चलिए जानते हैं कैसे।

SEO Friendly का क्या मतलब है?

SEO का मतलब होता है, अपनी पोस्ट में सीओ करना, जिसमें पोस्ट टाइटिल, हेडिंग से लेकर अन्य SEO शामिल है। जिसके बारे में हम नीचे जानने वाले हैं।

अक्सर New Blogger क्या करते हैं, कि अपने ब्लॉग पर पोस्ट लिखी और उस पोस्ट को देखा भी नहीं की पोस्ट में वर्ड सही लिखे गए हैं, या नहीं। या फिर कुछ गलतियां तो नहीं रह गई है, और ना उसका Custom URL बनाते हैं, ना ही उसका title ठीक-ठाक बनाते हैं, जिसके कारण उनकी पोस्ट गूगल पर रैंक नहीं कर पाती है।

इसलिए आपको अपनी हर एक पोस्ट में SEO करना चाहिए, और अपनी पोस्ट को SEO Friendly बनानी चाहिए। ताकि गूगल आपकी पोस्ट को अच्छे से समझ सके, और उसे सर्च रिजल्ट में अच्छी रैैंक दे सकें।

SEO Friendly पोस्ट कैसे लिखें?

वैसे मैंने अपने ब्लॉग पर कहीं सारे पोस्ट लिख रखे हैं, जिनमें मैंने SEO से रिलेटेड काफी अच्छी जानकारियां दे रखी है। उसके लिंक भी मैं आपको इस पोस्ट में दे रहा हु इन पर जाकर आप SEO से Related अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Seo रिलेटेड पोस्ट: " Blog post में Seo Keyword टारगेट कैसे करें "
" 8 सर्वश्रेष्ठ फ्री और पैड कीवर्ड रिसर्च टूल के बारे में जाने SEO कीवर्ड सुझाव "
Blogger website Post का SEO कैसे करें, एडवांस ट्यूटोरियल "
backlink क्या है, dofollow nofollow बैक लिंक कैसे बनाए। "
 " Blog website की पोस्ट को कुछ मिनट में गूगल सर्च में कैसे लाएं "
Blogger Settings में Meta tag Description कैसे Add करें "

पोस्ट SEO Friendly लिखने का मतलब होता है, की पोस्ट में सभी सीओ को पूरा करना, कोई भी SEO अधूरा न छोड़ना। जिसके कारण हमारी पोस्ट SEO Friendly बन जाती है, और गूगल उसे अच्छे से समझता है। और उसे सर्च रिजल्ट में दिखाकर सिद्ध करता है और जरूरत मंंद उपयोगकर्ताओं को हमारी पोस्ट पर भेजता है।

पोस्ट SEO Friendly कैसे लिखें?

पोस्ट SEO Friendly अधिकतर तभी होती है, जब हम किसी SEO Friendly कीवर्ड पर पोस्ट लिखते हैं। अगर हम ऐसे किवर्ड पर पोस्ट लिखते हैं, जिसे कोई गूगल पर सर्च नहीं करता है। या फिर कभी-कभी सर्च करते हैं, तो उस पर हमारी पोस्ट कभी रैंक नहीं करने वाली हैं। अगर आप भी ऐसे ही Keyword पर अपने ब्लॉग पर पोस्ट लिखते हैं, तो आज से लिखना छोड़ दें। या फिर ऐसे किवर्ड से कभी उम्मीद न करें, कि आपकी पोस्ट इन Keywords पर गूगल पर अधिक रैंक करेगी।

इसलिए अपने ब्लॉग पर कोई भी पोस्ट लिखने से पहले दो बार सोचे कि आखिरकार गूगल पर प्रतिदिन विजिटर क्या सर्च करते हैं और वहां क्या चाहते हैं वह किन नई चीजों की ओर आकर्षित हो रहे हैं और फिर आप अपनी साइट पर वहीं सामग्री बनाए जिसमें विजिटर्स की रुचि है फिर आप देखेंगे कि कैसे आपकी साइट समय के साथ उच्च ट्रैफिक की ओर बढ़ती है।

तो गूगल पर अधिक सर्च होने वाले और कम कंपटीशन और अधिक सीपीसी देने वाले Keyword के बारे में आपको जानना चाहिए, और हमेशा आपके उन पर अपने ब्लॉग पर पोस्ट लिखनी चाहिए ताकि आप कम समय में अच्छी कामयाबी हासिल कर सकें।

तो ऐसे कहीं free और paid कीवर्ड रिसर्च टूल्स है। जिनसे आप यह पता कर सकते हैं, कि कौनसा Keyword Google पर कितना सर्च होता है। और कितना कंपटीशन है, और कितना सीपीसी उस Keyword पर हमें मिलता है।

और Keywords Research tool के बारे में मैंने अपने ब्लॉग पर पहले ही एक पोस्ट लिख रखी है, जिस पर मैंने 8 कीवर्ड रिसर्च टूल के बारे में बताया है। जिनसे आप काफी हद तक अपनी पोस्ट को गूगल पर अधिक आकर्षित कर सकते हैं और अपनी पोस्ट की रैंक गूगल पर बेहतर बना सकते हैं।

और जब आप इन कीवर्ड रिसर्च टूल की मदद से अच्छे से अच्छे हाई क्वालिटी कीवर्ड पर अपनी साइट पर पोस्ट लिखेंगे, तो आप सोच भी नहीं सकते की आपकी साइट की पोस्टें कितनी अधिक रैंक करने वाली हैं।

पोस्ट का टाइटल कैसे रखें?

पोस्ट टाइटिल पर आपको काशकर ध्यान देना चाहिए, बहुत से लोग हैं। या फिर पहले मैं खुद अपनी ब्लॉग पोस्ट पर अंग्रेजी टाइटिल का उपयोग करता था। जबकि मैं कंटेंट हिंदी में लिखता हूं, इससे क्या हुआ पता है। जिस भी पोस्ट का टाइटिल मैंने अंग्रेजी में लिखा वह पोस्ट गूगल पर ठीक से दिखाई भी नहीं देती थी, या फिर सबसे नीचे दिखाई देती थी। इसी कारण मेरी साइट का ट्रैफिक बहुत कम था, और मेरी साइट धीरे-धीरे गूगल सर्च रिज़ल्ट में और अधिक कमजोर होने लगी थी।

लेकिन कुछ पोस्ट में मैंने अपनी पोस्ट कंटेंट से रिलेटेड टाइटल ही रखें, यानी अगर पोस्ट कंटेंट हिंदी है। तो टाइटिल भी मैंने हिंदी या फिर हिंग्लिश लिखे थे। जिस पर मेरी पोस्टें गूगल पर अच्छी रैंक प्राप्त कर रही थी, और कहीं पोस्ट तो बिल्कुल पहले पेज पर रैंक कर रही थी।

फिर मैं समझ गया, कि गूगल उन्हीं पोस्ट को अधिक Crawl करता है। जिसका कंटेंट और टाइटिल एक सम्मान हो, यानी अगर पोस्ट का टाइटिल हिंदी में है तो उसका कंटेंट भी हिंदी में ही होना चाहिए। तभी गूगल उसे अच्छी रैंक करता है। जब कोई Google पर हिंदी में सर्च करेगा, तो गूगल पहले यह देखता है, कि किस साइट पर विजिटर ने जो कीवर्ड हिन्दी में सर्च किया है। उससे रिलेटेड टाइटिल और उसका कंटेंट हिंदी में है। फिर गूगल उस पोस्ट को Crawl करता है और अगर आपकी पोस्ट का कंटेंट यूनिक ओर लाभदायक है तो गूगल आपकी पोस्ट को सबसे ऊपर दिखाता है, और विजिटर को उस पर जाने के लिए प्रोत्साहित करता है। लेकिन विजिटर तय करता है, कि उसे किस पोस्ट पर क्लिक करना है।

पर जब हम अंग्रेजी में सर्च करेंगे, तो गूगल हमें अंग्रेजी सामग्री वाली पोस्ट ही दिखाएगा। क्योंकि हमने अंग्रेजी में सर्च किया है। इसी तरह जब कोई हिंदी में सर्च करेगा, तो उसे गूगल अधिक से अधिक हिंदी पोस्ट ही दिखाएगा। और जब तक हिंदी दिखाता रहेगा, जब तक उस विजिटर के हिंदी कीवर्ड से रिलेटेड मेल खाने वाली पोस्ट खत्म ना हो जाए। फिर आपको बीच में अंग्रेजी की पोस्ट भी दिखा सकता है। आपकी गूगल कुकीज एक्टिविटी के हिसाब से।

तो अगर आप किसी कीवर्ड रिसर्च टूल पर अंग्रेजी में कीवर्ड रिसर्च कर रहे हैं। तो इस बात का ध्यान रखें, कि अगर आप अपनी साइट पर पोस्ट हिंदी में लिखते हैं। तो आप उस अंग्रेजी कीवर्ड का हिंदी अनुवाद कर सकते हैं, और उसे अपनी पोस्ट टाइटल बॉक्स के अंदर डाल सकते हैं। या फिर अंग्रेजी टाइटिल पर पोस्टर रैंक कराने के लिए कंटेंट भी आपको अंग्रेजी में ही लिखना होगा, तभी आपकी पोस्ट गूगल पर रैंक करेगी।

या फिर आप चाहें तो अपने हिंदी कंटेंट के लिए हिंग्लिश का उपयोग कर सकते हैं हिंग्लिश एक हिंदी की तरह बोली जाने वाली भाषा है। जिसमें वर्ड तो अंग्रेजी के उपयोग किये जाते हैं, लेकिन वह बोलने में बिल्कुल हिंदी की तरह होती है। यहां पर हिंदी और हिंग्लिश का उदाहरण देखें।

टाइटिल हिन्दी: "ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में पहले पेज पर कैसे लाएं"

टाइटिल हिंग्लिश: "Blog Post Ko Google Search Me pehale Page Par Kaise Laye"

आप इंग्लिश और हिंग्लिश को एक सम्मान न समझे इन दोनों में काफी फर्क है। जैसा कि हम जानते हैं, की हिंग्लिश को इंडिया में काफी सर्च किया जाता है। और मैं भी अधिकतर अपनी पोस्टों में हिंग्लिश टाइटिल का ही उपयोग करता हूं, और पोस्टें भी अच्छी खासी रैंक कर लेती है।

ब्लॉग पोस्ट के अंदर Heading का उपयोग किस प्रकार करना चाहिए?

पोस्ट कंटेंट के अंदर हेडिंग देना एक अच्छी बात हो सकती है। और एक हेडिंग का उदाहरण आप इसके ठीक ऊपर इस मोटे हेडिंग लाईन में देख सकते हैं। ऐसे ही आपको भी अपनी पोस्ट कंटेंट के अंदर हेडिंग का उपयोग करना है। और अपने कंटेंट को अलग-अलग भागों में बांट लेना है, जैसे मैंने बांट रखा है। इससे क्या फायदा होगा, कि आपकी पोस्ट पर जो भी विजिटर आएगा, उसे आपकी पोस्ट बेहतर तरीके से समझ में आएगी।

और आपकी पोस्ट जितनी अच्छी विजिटर को समझ में आएगी। वह उतना ही अधिक समय आपकी पोस्ट पर बताएगा। और आपकी पोस्ट को अद बीच में नहीं छोड़ेगा, और पूरी पढे़गा। इससे गूगल में आपकी पोस्ट और साइट की क्रेविटी बढ़ेगी, जिससे गूगल आपकी पोस्ट को और अधिक रैंक करने की कोशिश करेगा। जिससे आपकी साइट पर ट्रैफिक बढे़गा, तो आपको अपनी साइट में हेडिंग का उपयोग जरूर करना चाहिए, इससे आपको काफी फायदा होने वाला है।

और एडिंग ठीक उसी प्रकार लिखे जिस प्रकार की जानकारी उस हेडिंग के नीचे आप देने वाले हैं। ताकि विजिटर यह जान सके कि आप इस हेडिंग के नीचे किस बारे में बात करने वाले हैं।

हेडिंग देने का तरीका।

किसी टेक्स्ट को हेडिंग देने के लिए ऊपर दिए गए सामग्री मीनू बार मैं (Normal) ऑप्शन को चुने, वहां पर आपको
 Heading, Subheading और Minor heading के तीन ऑप्शन मिल जाएंगे, इनकी मदद से आप अपनी पोस्ट के अंदर हेडिंग दे पाएंगे।

ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने का तरीका पोस्ट को पहले पेज पर कैसे लाएं पोस्ट सर्च #1 पेज गूगल स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी, Blog Post Ko Google Search Me First Page Par Kaise Laye, Google Search Post #1 page, Search Posts Seo Friendly Advance Ranking

और हेडिंग देने के लिए उस टेक्स्ट को सेलेक्ट करें, जिसको आप हेडिंग देना चाहते हैं। फिर आप नॉर्मल ऑप्शन पर क्लिक करके वह हेडिंग चुने, जैसी हेडिंग आप उस टेक्स्ट को देना चाहते हैं।

इमेज के अंदर ALT TEXT कैसे लगाएं?

इमेज के अंदर और ALT Text लगाना, यानी इमेज को गूगल पर अधिक आकर्षित करना होता है। आप अपनी इमेज के अंदर आल टेक्स्ट जोड़कर अपनी इमेज को गूगल खोज नतीजों में अधिक आकर्षित कर सकते हैं, और अपनी पोस्टों पर अधिक ट्रैफिक ला सकते हैं।

और किसी इमेज में ALT Text जोड़ने के लिए उस इमेज पर टैप करें, जिसके अंदर आप इमेज ALT Text जोड़ना चाहते हैं। इमेज पर टैप करने के बाद आपके सामने कुछ ऑप्शंन ओपन हो जाएंगे, जिन्हें आम नीचे इस इमेज में देख सकते हैं।

ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने का तरीका पोस्ट को पहले पेज पर कैसे लाएं पोस्ट सर्च #1 पेज गूगल स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी, Blog Post Ko Google Search Me First Page Par Kaise Laye, Google Search Post #1 page, Search Posts Seo Friendly Advance Ranking

इन विकल्प में से आपको प्रॉपर्टी ऑप्शन को सेलेक्ट करना है, फिर आपके सामने एक पॉप-अप विंडो ओपन होगा, उसमें आपको दो बॉक्स मिलेंगे। Title Text और ALT Text

Title Text: तो टाइटिल वाले बॉक्स में आपको अपनी पोस्ट का टाइटल डाल देना है।

ALT Text: और आल्ट टेक्स्ट के अंदर आपको अपनी पोस्ट टाइटिल से रिलेटेड कुछ कीवर्ड बनाने हैं, जिसके अंदर आपको कोमा [ , ] का उपयोग नहीं करना है। नीचे यहां पर एक उदाहरण देखें।

Title Text: ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में पहले पेज पर कैसे लाएं

ALT Text: ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने का तरीका पोस्ट को पहले पेज पर कैसे लाएं पोस्ट सर्च #1 पेज गूगल स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी

और इसके साथ ही अगर आप हिंग्लिश कीवर्ड का उपयोग करेंगे तो ओर भी अच्छा रहेगा।

उदाहरणः ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में पहले पेज पर कैसे लाएं, Blog Post Ko Google Search Me pehale Page Par Kaise Laye

ऐसा करने से क्या होगा, कि आपकी पोस्ट इमेज हिंदी और हिंग्लिश दोनों में गूगल पर अच्छी रैंक कर पाएगी।

यह भी पढे़ः " Mobile phone से अच्छी Video कैसे बनाये | Video Editor 3 Apps "
Apne YouTube Video Me # Tag Kaise Add Kare "
Youtube vedio के लिऐ custom thumbnail कैसे बनाएं "
youtube vedio पर फोटो कैसे लगाए, वीडियो पर थंबनेल कैसे लगाएं "

अपनी पोस्ट इमेज मैं कस्टम नाम कैसे जोड़ें?

यह भी एक अच्छा तरीका है, अपनी इमेज और पोस्ट को गूगल पर और अधिक आकर्षित करने का और रिच नतीजों में परिवर्तित करने का।

इमेज नाम के अंदर अक्षर वह नाम होता है। जिसके जरिए हम इमेज लेते हैं, अगर हम कैमरा से फोटो लेते हैं, तो उसके अंदर कैमरा लिखा होगा, और img इसके साथ कुछ नंबर लिखें होंगे। उन्हीं नंबर को हमें कस्टम नाम मैं बदलना है। और कस्टम नाम आपको वह रखना है, जैसा आपकी पोस्ट टाइटिल का नाम है। लेकिन इसमें आपको अधिकतर कीवर्ड का उपयोग करना है।

इमेज के लिए कस्टम नाम बनाने का तरीका।

Blog_post_Google_Search_First_Page

यह कस्टम नाम मेरी पोस्ट टाइटल से रिलेटेड है इस पोस्ट की इमेज के लिए आपकी पोस्ट का टाइटिल अलग हो सकता है। और कस्टम नाम भी अलग होना चाहिए।

इमेज में कस्टम नाम लगाएं।

तो इमेज में कस्टम नाम जोड़ने के लिए ऊपर की ओर लेफ्ट साइड में Compose के पास HTML को सिलेक्ट करें। अब अपने इमेज कोड के पास जाएं नीचे इस इमेज में देखें।

ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने का तरीका पोस्ट को पहले पेज पर कैसे लाएं पोस्ट सर्च #1 पेज गूगल स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी, Blog Post Ko Google Search Me First Page Par Kaise Laye, Google Search Post #1 page, Search Posts Seo Friendly Advance Ranking
Screenshot इमेज कस्टम नाम जोड़ने से पहले ली गई

तो ऊपर आप इस इमेज में देख सकते हैं कि यहां पर मैंने कुछ नंबर को सेलेक्ट किया हुआ है ताकि मैं इनको हटा कर इसकी जगह इमेज के लिए कस्टम नाम जोड़ सकूं।

तो आपको भी ऐसे ही अपनी इमेज के नंबर को डिलीट करके वहां पर कस्टम नाम जोड़ देना है, और इमेज के लिए कस्टम नाम कीवर्ड से रिलेटेड ही बनाएं।

इमेज के अंदर कस्टम नाम जोड़ने के बाद स्क्रीनशॉट लिया गया नीचे इस इमेज में देखें।

ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने का तरीका पोस्ट को पहले पेज पर कैसे लाएं पोस्ट सर्च #1 पेज गूगल स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी, Blog Post Ko Google Search Me First Page Par Kaise Laye, Google Search Post #1 page, Search Posts Seo Friendly Advance Ranking
Screenshot इमेज कस्टम नाम जोड़ने के बाद ली गई

तो जैसा कि आप ऊपर इस इमेज में देख सकते हैं, कि कैसे मैंने अपनी पोस्ट इमेज मैं एक कस्टम नाम जोड़ दिया है। जोकि पोस्ट रैंकिंग का एक अच्छा कारण बन सकता है, ऐसे ही आप भी अपनी पोस्ट इमेज को कस्टम नाम देना न भूले।

पोस्ट में SEO फ्रेंडली Prmalink कैसे बनाएं?

पोस्ट के अंदर सियो फ्रेंडली परमा लिंक बनाना उतना ही जरूरी है, जितना पोस्ट का कंटेंट ओरिजिनल और युनिक लिखना जरूरी है। पोस्ट का कंटेंट जितना ओरिजिनल और रोचक होगा, उतना ही विजिटर्स को पढ़ने में अधिक आनंद आएगा, और उन्हें उनके काम की जानकारी भी मिल जाएगी।

और पोस्ट टाइटिल के साथ-साथ अगर आप Prmalink में पोस्ट का URL SEO फ्रेंडली बनाते हैं। तो आप उम्मीद नहीं कर सकते, कि आपका छोटा सा बदलाव Traffic का कितना सैलाब ला सकता है। क्योंकि हम नहीं कह सकते, कि कौन सा बदलाव आपकी साइट या पोस्ट के लिए कितना हद तक ट्रैफिक का सैलाब ला सकता है।

ध्यान देंः कि अगर आपने पहले ही पोस्ट के लिए यूआरएल बनाए हैं, तो आप इस पोस्ट को पढ़ने के बाद अपनी दूसरी पोस्टों में SEO Friendly यूआरएल बनाने के लिए। आप उन पोस्टों का यूआरएल अपडेट न करें, जिन्हें आप पहले ही पब्लिश कर चुके हैं। और वह पोस्ट गूगल में दिखाई देने लगी है। इससे आपको 404 कोड का सामना करना होगा, जो कि कभी न हल होने वाली समस्या है। या जब तक आप उस लिंक पर अन्य कोई सामग्री नहीं बनाते हैं, या फिर उसे वापस उसी पोस्ट में स्थापित नहीं करते हैं।

अगर आप अपनी पोस्ट का यूआरएल अपडेट करते हैं, तो गूगल यह समझेगा, कि आपने अपनी पोस्ट को अपनी साइट से हटा दिया है। और जब कोई विजिटर गूगल पर कीवर्ड सर्च करके या फिर आपने जहां पर भी अपनी पोस्ट शेयर की है। वहां से कोई विजिटर आपकी पोस्ट पर क्लिक करेगा। तो पोस्ट उसे नहीं मिल पाएगी, क्योंकि आपने उसका यूआरएल चेंज कर दिया है। और आपकी साइट उसे 404 कोड बताएगी, कि यह पोस्ट इस साइट से हटा दी गई। और वही कोड आपको आपके गूगल सर्च कंसोल रिपोर्ट में देखने को मिलेगा।

लेकिन आप निश्चित रह सकते हैं, क्योंकि आपको इससे साइट रैंकिंग में कोई समस्या नहीं आने वाली है, अगर आप चाहें तो इसे चेंज भी कर सकते हैं।

रही बात पोस्ट में कस्टम यूआरएल को SEO Friendly बनाना, तो इसके बारे में आप हमारी यह पोस्ट पढ़ सकते हैं।

पोस्ट में Search Description का सही उपयोग करना।

नए ब्लॉगर ये नहीं जानते हैं, कि पोस्ट के अंदर सर्च डिस्क्रिप्शन का उपयोग कैसे किया जाता है। और पहले सर्च डिस्क्रिप्शन आपको आपके पोस्ट संपादन में देखने को नहीं मिलेगा, इसे हमें यहां पर लाना होता है।

इसके लिए आपको पहले अपने ब्लॉगर सेटिंग, खोज प्राथमिकताएं में मेटा टैग डिस्क्रिप्शन में कीवर्ड बनाने होते हैं, जब आप उसमें कीवर्ड बनाने के बाद उसे सेव करते हैं। तो यहां पर आपकी हर पोस्ट के लिए एक सर्च डिस्क्रिप्शन बॉक्स आ जाता है, जिसमें आप अपनी पोस्टों के लिए कीवर्ड बनाएंगे।

Search Description में कीवर्ड कैसे बनाएं?

बहुत ही आसान हैं। लेकिन सर्च डिस्क्रिप्शन में कीवर्ड बनाने के लिए आपको कीवर्ड की जरूरत पड़ेगी, या फिर आप अपनी सोच के मुताबिक भी अपनी पोस्ट टाइटिल से रिलेटेड गूगल पर अधिक सर्च होने वाले कीवर्ड जोड़ सकते हैं।

या फिर आप यह तरीके आजमाए सबसे अच्छा तरीका है। अपनी पोस्ट के लिए कीवर्ड ढूंढने का गूगल, जी हां गूगल पर जाकर आप अपनी पोस्ट के लिए जो टाइटल रख रहे हैं। उस टाइटिल को गूगल पर खोजें,

वहां पर आपको सबसे पहले जो पोस्टें Show हो रही है। उनमें आपको यह देखना है, कि उन पोस्ट के डिस्क्रिप्शन और टाइटिल में ऐसा क्या है। और उन्होंने किन कीवर्ड का उपयोग किया है, डिस्क्रिप्शन में ऐसा क्या लिख रखा है। जिसके कारण वह पोस्ट गूगल पर पहले पेज में दिखाई दे रही है।

और इसके साथ ही आप नीचे की ओर स्लाइड करें, सबसे नीचे आपको वह कीवर्ड बताए जाएंगे। मतलब कि आपकी खोज से रिलेटेड कीवर्ड आपको वहां पर सबसे नीचे बताए जाते हैं, जिनको लोग गूगल पर आए दिन सर्च करते रहते हैं।

ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने का तरीका पोस्ट को पहले पेज पर कैसे लाएं पोस्ट सर्च #1 पेज गूगल स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी, Blog Post Ko Google Search Me First Page Par Kaise Laye, Google Search Post #1 page, Search Posts Seo Friendly Advance Ranking

ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने का तरीका पोस्ट को पहले पेज पर कैसे लाएं पोस्ट सर्च #1 पेज गूगल स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी, Blog Post Ko Google Search Me First Page Par Kaise Laye, Google Search Post #1 page, Search Posts Seo Friendly Advance Ranking

उनको आप अपनी पोस्ट डिस्क्रिप्शन में जोड़ें, यह काफी हद तक SEO Friendly होते हैं। और हमारी पोस्ट को गूगल पर रैंक करने में काफी मदद भी करते हैं।

और हर कीवर्ड के बीच में इस ( , ) कोमा का उपयोग करें, ताकि आपके कीवर्ड अलग हो सके।

और इसके साथ आप उन कीवर्ड में अपने हिसाब से भी दो-तीन कीवर्ड बना लें। और अपने हिसाब से कीवर्ड बनाते समय आपको यह सोचना है, कि अगर आपको इस पोस्ट की जरूरत होती जो पोस्ट आप लिख रहे हैं। तो आप गूगल पर जाकर क्या सर्च करते, ऐसे सोचकर आपको अपने डिस्क्रिप्शन में कीवर्ड बनाने हैं।

फिर आप देखेंगे, आने वाले समय में आपकी साइट गूगल पर एक अच्छी रैंक प्राप्त कर लेगी। और अगर आप अपने डिस्क्रिप्शन से लेकर परमा लिंक और टाइटिल में सही और सटीक जानकारी वाले कीवर्ड का उपयोग करेंगे। तो आप यकीन मानिये कि आपकी पोस्ट पहले पेज पर सो होगी। यह मेरा मानना है। बस आपको मेहनत करने से पीछे नहीं हटना है, जितनी आप मेहनत करोगे, एक दिन आप अपने ब्लॉगिंग के करियर में उतने ही आगे बढ़ोगे।

यह भी पढ़ें: " अपने ब्लॉगर से पोस्ट कंटेंट, कमेंट और वीडियो आयात कैसे करें "
backlink क्या है, dofollow nofollow बैक लिंक कैसे बनाए - 2019 "
ई-मेल के जरिए ब्लॉग पर डायरेक्ट पोस्ट कैसे करें | mail2blogger "
ब्लॉगर वेबसाइट पर एक साथ एक से अधिक आदमी पोस्ट कैसे करें "
मोबाइल फोन हैंग क्यों होते है इनके हैंग होने के पीछे क्या कारण है "
एंड्रॉयड फोन से बेस्ट सेल्फी लेने के दो शानदार ऐप्स के बारे में जाने "
मोबाइल फोन से फोटो का बैकग्राउंड कट और चेंज कैसे करते हैं "

हमें उम्मीद है, कि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी। और अगर पसंद आई है, तो अपनी उंगलियों और अंगूठों को थोड़ा ओर कष्ट दे। और नीचे एक कमेंट लिखें, कि आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी। और आज आपने इस पोस्ट से नया क्या सीखा है।

Hello friend my name is durgesh nayak the great are blog sikhoinall

टिप्पणियां

टिप्पणी पोस्ट करें

क्या आपने इस पोस्ट पर अपना 'Comment' किया है, यदि (नहीं) तो अभी करें।

आपके विचार सार्वजनिक है।

" धन्यवाद "

YouTube Channel Subscribe Now »
Facebook Page Following »

अब यहां पर खोजें