Blog post ki seo setting kaise kare | seo setting sikhe 2020

Update: नवंबर 16, 2020

ब्लॉग पोस्ट की Best seo सेटिंग कैसे करें?

नमस्कार दोस्तों मैं दुर्गेश नायक और आज में फिर आपका स्वागत करता हूं मेरी वेबसाइट sikhoinAll मैं और आज आपका सवाल हैं। कि ब्लॉग पोस्ट की अच्छी से अच्छी seo सेटिंग कैसे करते हैं तो आज मैं आपके इसी सवाल का जवाब इस पोस्ट में देने वाला हूं, तो इस पोस्ट को लास्ट तक पढ़े, और पढ़ने का आनंंद लीजिए।

Blogger Blog post seo setting blogger website posts Best seo सेटिंग फोटो - (image) Seo सेटिंग

तो असल में बात क्या होती हैं जब कोई नया ब्लॉगर वेबसाइट बनाता हैं, तो उसे ब्लॉग के बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं होता हैं। और उसे कुछ भी समझ में नहीं आता हैं कि कौनसा ऑप्शन किस काम में आता हैं, और उसके क्या फायदे हैं।

और नए ब्लॉगर क्या करते हैं की पोस्ट लिखी और उसे प्रकाशित कर देते है, लेकिन उन्हें यह पता नहीं होता की पोस्ट की भी सीओ सेटिंग की जाती हैं। और पोस्ट कि seo सेटिंग करना जरूरी भी होता है और यह इसलिए ताकि गूगल हमारी पोस्ट को अच्छे से समझ सकें, और उसे क्रोल करके गूगल सर्च नतीजों में दिखा सकें।

Blog website की सेटिंग करना सीखे जानीए सटेप बाय सटेप इन हिंदी "

पोस्ट किस तरह से लिखें।

तो सबसे पहले बात करते हैं पोस्ट लिखने की तो दोस्तों पोस्ट इस तरह से लिखे की आपकी वेबसाइट पर आने वाले विजिटर को पोस्ट अच्छी तरह से समझ में आ जाए, पोस्ट लिखते समय heading सब टाइटल को थोड़ा सा बड़ा करें। जिस तरह मैंने इस पोस्ट में heading सब टाइटल को बड़ा किया हुआ हैं तो अब आप सोच रहे होंगे, कि सब टाइटल क्या होता हैं। 

तो सब टाइटल वह होते हैं जो पोस्ट के बीच में दिए जाते हैं, विजिटर को समझाने के लिए। की अब हम आपको यहां पर क्या बताने जा रहे हैं जैसे कि मैंने अभी ऊपर एक सब टाइटल दिया हुआ है, (पोस्ट किस तरह से लिखें) तो यह मेरी तरफ से आपके लिए एक heading सब टाइटल हो गया हैं। और ऊपर दिए गए इस सब टाइटल के जरिए मैं आपको क्या बताने की कोशिश कर रहा हूं, यह आप भली-भांति समझ गए होंगे।

और सब टाइटल को बड़ा करने के लिए हम major heading, heading, sub-heading, minor heading, paragraph इन ऑप्शन को यूज करेंगे। और सब टाइटल को हेडिंग देने के लिए ऊपर पोस्ट एडिटर स्लाइड मेनू बार में [ Normal ] पर क्लिक करें, और आपके सामने छह ऑप्शन ओपन होंगे, उनमें से आप अपने हिसाब से कोई एक चुन ले।

 तो इसी तरह आप भी अपनी पोस्ट में "सब टाइटल" बनाए और उनको हेडिंग देकर "थोड़ा बड़ा" जरूर करें "ताकि" आपके विजीटर को समझ में आ जाए। की इनके बारे में कुछ यहां पर लिखा गया हैं और पोस्ट लिखने के साथ-साथ कुछ फोटो भी जरूर यूज करें, "फोटो" से क्या फर्क पड़ता हैं ? तो दोस्तों जितना हम लिखते हैं उससे समझ में नहीं आता हैं, जितना लोग "फोटो देखकर" समझ जाते हैं। इसलिए जिस पर आप "पोस्ट लिख" रहे हैं उसके "रिलेटेड कुछ फोटो" भी अपनी पोस्ट में जरूर ऐड करें। 

फोटो (image) की Seo सेटिंग करना सीखे।

तो दोस्तों अपनी पोस्ट को पूरी तरह से लिख लें और उसमें फोटोज भी जोड़ दे, उसके बाद हमें पोस्ट की सीओ सेटिंग करनी हैं। तो हम सबसे पहले फोटो की सीओ सेटिंग से शुरू करते हैं और अब आप सोच रहे होंगे, की क्या फोटो की भी seo सेटिंग की जा सकती हैं। तो हां दोस्तों फोटो की भी सीओ सेटिंग हो सकती हैं और फोटो कि seo सेटिंग करने के लिए, एक बार फोटो पर टैप करें और फोटो के नीचे कुछ ऑप्शन खुल जाएंगे।

Blogger Blog post seo setting blogger website posts Best seo सेटिंग फोटो - (image) Seo सेटिंग

इन ऑप्शन से आप फोटो की साइज छोटी बड़ी कर सकते हैं फोटो को लेफ्ट या राइट साइड में कर सकते हैं, कैप्शन जोड़ सकते हैं।

कैप्शन जोड़ेंः अपने इमेज के लिए कैप्शन जोड़ें कैप्शन का अर्थ है। यदि आप कोई इमेज किसी अन्य साइट से डाउनलोड करते हैं  तो आप उस साइट का क्रेडिट कैप्शन में दे सकते हैं, कि आपने इमेज किस साइट से ली हैं। या वह इमेज किस बारे में है, यह जानकारी आप कैप्शन में इमेज के नीचे जोड़ सकते हैं।

तो कैप्शन जोड़ने के लिए इमेज पर टैप करें, और इस ऑप्शन पर क्लिक करें। फिर इमेज के नीचे आपको Add Caption का एक विकल्प दिखाई देगा, उसे डिलीट करें और आप जो लिखना चाहते हैं, वहां पर लिखें।

इमेज सेटिंगः इमेज की सही सियो सेटिंग करने से आपकी इमेज गूगल सर्च नतीजों में अधिक इंप्रेशन प्राप्त कर सकती है। और उस पर क्लिक होने की संभावना भी अधिक होती है।

तो इमेज की seo सेटिंग करने के लिए, इमेज पर टेप करें और फिर आपको पॉपअप विंडो में (Settings) का एक icon ⚙️ दिखाई देगा। 

उस सेटिंग के ऑप्शन पर क्लिक करें और आपके सामने एक पॉपअप विंडो ओपन हो जाएगा, और पॉपअप विंडो मे (ALT text) और (title text) के दो ऑप्शन आएंगे। तो title text में आपको अपनी पोस्ट का टाइटल डाल देना है जिस title पर आप पोस्ट लिख रहे हैं। 

और फिर alt text में आपकी पोस्ट से रिलेटेड मैन कीवर्ड की लाइन लिखनी हैं। जो आपकी पोस्ट टाइटल से अधिकतम मैच खाती हो, और फिर (Update) पर क्लिक कर ले। और आपके फोटो कि seo सेटिंग हो जाएगी। और अब हम बात करते हैं इस पूरी पोस्ट की सीओ सेटिंग के बारे में,

पोस्ट की seo सेटिंग कैसे करें?

तो दोस्तों अपनी पोस्ट की seo सेटिंग करने के लिए ऊपर post editor मेनू बार में एक ⚙️ सेटिंग का ऑप्शन दिखाई देगा, आपको उस ऑप्शन पर क्लिक कर लेना हैं। और क्लिक करने के बाद, नीचे आपको post setting के कुछ ऑप्शन दिखाई देंगे।

Blogger Blog post seo setting blogger website posts Best seo सेटिंग फोटो - (image) Seo सेटिंग

तो ऊपर इस पोस्ट में आप देख रहे होंगे, कि यहां पर बहुत सारे ऑप्शन हैं अब हमें इनकी seo सेटिंग करनी हैं, तो चलिए शुरू करते हैं। तो यहा पर सबसे ऊपर ही ऊपर लेबल आ रहा है तो सबसे पहले हम labels की सेटिंग से शुरू करते हैं।

[Labels (लेबल)]

तो दोस्तों लेबल का मतलब है कि हम पोस्ट किसके बारे में लिख रहे हैं, जैसे कि आपने ब्लॉग के ऊपर पोस्ट लिखी हैं तो आप लेबल में ब्लॉगिंग यूज कर सकते हैं। और अगर आपने android एप्लीकेशन के ऊपर पोस्ट लिखी है तो आप ( android tech ) यूज कर सकते हैं, आपने जिस बारे में पोस्ट लिखी हैं। 

उसके रिलेटेड लेबल बना सकते हैं और इनसे क्या होता हैं? की लेबल से लोगों को यह पता चल जाएगा, की आखिरकार आपने इस लेबल पर किस के बारे में पोस्ट दी हुई हैं। तो post के रिलेटेड लेबल बनाएं, और फिर आपका लेबल सेव हो जाएगा। तो अब हम लेबल के नीचे वाले schedule मे चलते हैं।

[Schedule (घड़ी)]

Schedule का मतलब होता है घड़ी अब आप घड़ी से तो समझ ही गए होंगे, कि हमें यहां पर क्या करना हैं। यहां पर हमें अपनी पोस्ट का डेट और टाइम सेट करना है तो आप schedule पर क्लिक करें, और फिर आप यहां पर autometic (ऑटोमेटिक) को चुन ले। इससे क्या होगा की पोस्ट का डेट और टाइम ऑटोमेटिक ही सेट हो जाएगा, आपको कुछ भी करने की जरूरत नहीं हैं। और अब हम इसके नीचे वाले permalink मैं चलते हैं।


[permalink (परमा लिंक)]

permalink का मतलब होता है पोस्ट का लिंक जिसे हम यूआरएल कहते हैं, और जो पोस्ट आप लिख रहे हैं उसके टाइटल का यूआरएल हमें परमा लिंक मैं बनाना पड़ता हैं।

उदाहरण के तौर पर जैसे आपकी वेबसाइट का नाम sikhoinall हैं और अब इसके पीछे का यूआरएल लिंक "https://sikhoinall.blockspot.com/" होता हैं। 

इसी तरह हमारे ब्लॉग की सभी अलग-अलग पोस्ट का एक अलग-अलग यूआरएल लिंक होता हैं। और इसे हम खुद अपनी पोस्ट के लिए बना सकते हैं तो हमें अपनी पोस्ट का यूआरएल लिंक बनाने के लिए, permalink पर टैप करना हैं। और आपके सामने दो ऑप्शन खुल कर आ जाएंगे Automatic permalink , custom permalink तो आपको इन दोनों में से custom permalink को चुनना हैं।

Blogger Blog post seo setting blogger website posts Best seo सेटिंग फोटो - (image) Seo सेटिंग

कस्टम परमालिंक से क्या होगा कि अपनी पोस्ट का यूआरएल लिंक हम खुद बना सकते हैं और कितना भी छोटा या बड़ा बना सकते हैं, और आप अपनी ब्लॉग पोस्ट का यूआरएल लिंक Post title के मैन कीवर्ड पर बनाए।

मान आपने अपनी पोस्ट का title Blog post ki seo setting kaise kare एसा रखा है। तो आपको इस शीर्षक के मैन कीवर्ड से URL बनाना है।

ऊपर दिए शीर्षक के मैन कीवर्ड यह निकलते है। Blog-post-seo-setting या Blog-post-ki-seo-setting तो ऐसे आप पोस्ट शीर्षक के मैन कीवर्ड से permalink URL तैयार करेंगे।

और यूआरएल बनाते समय हर एक वर्ड के बीच में बिना स्पेस दिए (-) माइनस का उपयोग करें। और ज्यादा जानकारी के लिए आप 📤 ऊपर दिए गए इस सक्रीनशॉट को देख सकते हैं।

तो कस्टम परमालिंक में आप अपनी पोस्ट टाइटल के रिलेटेड और उसके हिसाब से एक छोटा सा यूआरएल लिंक बना ले, और अब हम इसके नीचे वाले Location मैं चलते हैं।

[Location (स्थान)]

Location का मतलब है यहां पर उस जगह के बारे में जानकारी देनी है, जिस जगह से हमने यह पोस्ट लिखी हैं। और इसका मतलब हैं कि आपका राज्य कौनसा हैं, और आपका जिला कौनसा हैं, उनके बारे में यहा जानकारी देनी हैं। और अगर आपका गांव बहुत बड़ा है या फिर आप किसी ऐसे शहर में रहते हैं, जिसकी जानकारी गूगल मैप के पास हैं। 

तो आप अपने गांव का नाम भी यहां पर लिख सकते हैं और अगर आपका गांव बहुत छोटा हैं, और उसकी जानकारी गूगल मैप पर उपलब्ध नहीं हैं। तो आप अपने जिले और राज्य की लोकेशन गूगल को बता सकते हैं।

तो गूगल को आपकी जगह के बारे में जानकारी बताने के लिए, Location पर टैप करें। और फिर आपको आपके जिले का नाम या फिर आपके गांव का नाम लिखकर सर्च करना हैं, और नीचे आपको मैप पर एक रिजेलट दिखाई देगा। और अगर वह रिजेल्ट सही है तो फिर आपकी लोकेशन जानकारी आपकी पोस्ट पर सेट हो जाएगी।

ध्यान देंः यदि आप अपने ब्लॉग RSS Feed के जरिए पोस्ट अन्य ब्लॉग पर शेयर करते हैं या फेसबुक पेज पर इंस्टेंट आर्टिकल के तौर पर अपलोड करते हैं या अन्य साइटों को आप अपनी ब्लॉग पोस्टों को उनके ब्लॉग पर आरएसएस फीड के जरिए अपलोड करने देते हैं। 

तो मैं आपको सलाह देता हूं कि आप अपने किसी भी ब्लॉग पोस्ट में लोकेशन जानकारी ना जोड़ें। इसे खाली छोड़ दें यदि आप लोकेशन जानकारी जोड़ते हैं, तो आपके ब्लॉग की आरएसएस फीड अमान्य हो जाएगी। 

और आपके ब्लॉग की पोस्ट फेसबुक पेज पर इंस्टेंट आर्टिकल के तौर पर अपलोड नहीं होगी, और हो सकता है कि अन्य ब्लॉगर भी RSS Feed के जरिए आपकी पोस्टों को उनके ब्लॉग पर अपलोड न कर पाए।

और अब हम इसके नीचे वाले search Description मैं चलते हैं।

[search Description (खोज विवरण)]

तो सबसे पहले मैं आपको यह बता दु की ये search Description जब हम नया ब्लॉग बनाते हैं तो यह पहले से यहां मौजूद नहीं रहता हैं। इसको हमें यहां पर लाना पड़ता हैं। और इसको यहां पर लाने के लिए, हमें अपनी ब्लाग सेटिंग में एक सेटिंग करनी पड़ती हैं। 

और उस सेटिंग का नाम हैं। meta tag इसमें हमें अपनी साइट के रिलेटेड कुछ कीवर्ड बनाकर इसे सक्षम करना पड़ता है फिर ये search Description पोस्ट एडिटर में भी जुड़ जाता हैं, मैंने इसके ऊपर भी एक पोस्ट लिखी हैं आप नीचे इस लिंक पर जाकर इस पोस्ट को पढ़ सकते हैं।


तो दोस्तों search Description का मतलब होता है हमें यहां पर अपनी पोस्ट टाइटल के रिलेटेड कुछ कीवर्ड बनाने हैं। जिनसे क्या होगा, कि आपकी पोस्ट को समझने में गूगल को कोई दिक्कत नहीं आएगी।

और गूगल उसे अपने सर्च नतीजों में जरूरत के हिसाब से इंडेक्स कर सकेगा। और जिससे आपकी पोस्ट गूगल पर अच्छी रैंक कर पाएगी, और इसीलिए यहां पर पोस्ट के रिलेटेड वह कीवर्ड डालें जो आपकी पोस्ट टाइटल से अधिकतम मैच खाते हो।

[Options (विकल्प)]

Options इसमें आपको कुछ भी नहीं करना है इसकी सेटिंग पहले से ही सही होती हैं, आपको इसमें कुछ भी नहीं करना हैं। और अगर आप इसमें कुछ छेड़खानी करेंगे, तो आपकी पोस्ट डिसमिस हो सकती हैं। इसीलिए आपको इसमें कुछ भी नहीं करना हैं, इसकी सेटिंग जैसी हैं वैसी ही रहने दें।

[custom robot tags (कस्टम रोबोट टैग)]

custom robot tags यह हमारी ब्लॉग पोस्ट के लिए बहुत ही जरूरी हैं, और ये यहां पर पहले से मौजूद नहीं रहता हैं। इसकी भी हमें सेटिंग करनी पड़ती हैं फिर बाद में यह यहां पर आता हैं, custom robot tags को यहां पर लाने के लिए, हमें ब्लॉग सेटिंग में एक custom robots header tags की सेटिंग करनी पड़ती हैं।

और जिसके बारे में आप नीचे दिए गए, इस लिंक पर जाकर जान सकते हैं।

और Custom robot tags से हम ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च में लाने से रोक भी सकते हैं, और इससे Post इंडेक्स भी करवा सकते हैं। और अगर आप किसी पोस्ट, पेज को गूगल सर्च में आने से रोकना चाहते हैं। तो आपको (all) को हटाना हैं। और (noindex) पर ओके करना हैं।

 और आपका यह सेव हो जाएगा। लेकिन किसी भी पोस्ट, पेज को गूगल सर्च में जाने से रोकने के लिए, आप ब्लॉगर सेटिंग में जाकर (noindex) करें। आप यहीं से ही कर सकते हैं। क्योंकि अगर आप ब्लॉगर सेटिंग में जाकर noindex कर देते हैं तो आप की वेबसाइट के सभी पोस्ट noindex हो जाएंगे, यानी की वेबसाइट की सभी पोस्ट गूगल सर्च में नहीं आएगी। इसीलिए ब्लॉगर सेटिंग में जाकर इसे कभी भी noindex नहीं करना है।

और किसी भी पोस्ट को गूगल सर्च मे जाने से रोकने के लिए, आप जहां पोस्ट लिखते हैं वही से इसकी सेटिंग कर सकते हैं। बस आपको ( all ) को हटाना है और उसकी जगह ( noindex ) को चुनना हैं, और वह सेव हो जाएगा। और जब आप पोस्ट को प्रकाशित करेंगे तो गूगल के सर्च रोबोट आपकी पोस्ट को क्रोल नहीं करेंगे, और आपकी पोस्ट गूगल सर्च नतीजों में नहीं आएगी।

यह भी पढ़ेंः ब्लॉगिंग क्या है और ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए जाते हैं जाने स्टेप बाय स्टेप इन हिंदी "

और मुझे उम्मीद हैं कि आप को इस पोस्ट में अच्छी तरह से समझ में आ गया होगा, की ब्लॉग पोस्ट कि seo सेटिंग कैसे करते हैं ? और मुझे उम्मीद हैं की आपको मेरी यह पोस्ट बहुत पसंद आई होगी। और अगर आपको मेरी ये पोस्ट पसंद आई हैं तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करें और मुझे कमेंट करें कि आपको मेरी यह पोस्ट कैसी लगी।

" शायद आपको यह भी पसंद आए "
मोबाइल फोन से फोटो बनाने के 5 सबसे बेस्ट एप्स के बारे में जानने के लिए क्लिक करें "
Blogger website को डिजाइन करना सीखे "

टिप्पणियां

  1. great post, Thanks For Shering Good Information with us

    जवाब देंहटाएं
  2. SEO Setting ब्लॉग्गिंग के लिए बहुत आवश्यक है , इसकी जानकारी बहुत से ब्लोग्गेर्स को नहीं होती , मैं बहुत दिनों से यह जानकारी इंटरनेट पर ढूंढ रहा था , और आज आपकी इस पोस्ट तक पहुंच ही गया , यह जानकारी से कोई भी पोस्ट गूगल में रैंक करेगी , बहुत अच्छा आर्टिकल आपने लिखा , शुक्रिया , मुफ्त में ब्लॉगिंग सीखें - पूरी जानकारी - blogging course in 2020 hindi

    जवाब देंहटाएं
  3. मैं बहुत समय से ब्लॉगिंग सीख रहा हूं इसलिए निरंतर ब्लॉग से संबंधित पोस्ट को पढ़ रहा हूं , आपने यह जो पोस्ट लिखी है इस पोस्ट से मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला आपकी लिखने की Skill बहुत अच्छी है आपका यह ब्लॉग बहुत अच्छा है अब मैं निरंतर आपके ब्लॉग पर आऊंगा और आशा करता हूं कि हर बार कुछ नया सीख कर जाऊंगा इस पोस्ट के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। Permalink क्या है ? Blogger की Blogpost में Custom Permalink कैसे बनाये ?

    जवाब देंहटाएं

टिप्पणी पोस्ट करें

क्या आपने इस पोस्ट पर अपना 'Comment' किया है, यदि (नहीं) तो अभी करें।

आपके विचार सार्वजनिक है।

" धन्यवाद "

YouTube Channel Subscribe Now »
Facebook Page Following »

अब यहां पर खोजें