Blogger/Blog website property google search console में कैसे जोड़े

Update: नवंबर 10, 2020

'Blog website property google search console' में कैसे ऐड करें?

तो दोस्तों जैसा कि हमने पहले की post में पड़ा था, की ब्लॉग पोस्ट की बेस्ट seo सेटिंग कैसे करते हैं और इस post को पढ़ने के बाद हमने ब्लॉग को वेबसाइट की तरह डिजाइन कैसे करें इस बारे में पढ़ा था। और आज इस पोस्ट में हम जानने वाले हैं, की 'Blog/website property को google search console में ऐड' कैसे करते हैं? तो इस post को लास्ट तक पढ़े और पढ़ने का आनंद लें।

Blogger/Blog Website Property Google Search Console में जोड़े - blog Google Search Console Domain-URL prefix Blogger property Add 2020

Blog/website property को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ने से पहले, मैं आपको बता दूं, कि अगर आपने अभी तक अपने ब्लॉग की सेटिंग सेट अप नहीं की हैं। तो अपने ब्लॉग की सेटिंग भी सेेटअप जरूर करें, और यदि आपको अपने ब्लॉगर ब्लॉग की सेटिंग सेट अप करना नहीं आता है, तो आप यहांं पर जाकर ब्लॉगर सेटिंग के बारे में हमारा लेख पढ़ सकते हैं।

google search console में Website Property को क्यों जोड़ना चाहिए?

दोस्तों बात यह हैं, कि ब्लॉगर हमें खुद अनुमति देता हैं, कि आप अपने ब्लॉग की प्रॉपर्टी को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ें। ताकि Google आपकी वेबसाइट के सही मालिक को पहचान सकें। और उन्हें वेबसाइट पर आने वाली सभी समस्याओं के बारे में बता सकें, ताकि आप उन समस्याओं का समाधान करके, उनकी गूगल पर फिर से समीक्षा कर सकें।

और जब तक आप अपनी ब्लॉग वेबसाइट प्रॉपर्टी को गूगल सर्च कंसोल में नहीं जोड़ते हैं। तब तक आपको आपकी वेबसाइट पर आने वाली किसी भी समस्या के बारे में पता नहीं चलेगा, और आप उन्हें ठीक नहीं कर सकेंगे। और जिनके चलते आपकी साइट को बड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता हैं।

और इसीलिए ब्लॉगर हमें अपनी वेबसाइट प्रॉपर्टी को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ने की पूरी अनुमति देता हैं, ताकि हम अपनी वेबसाइट को गूगल पर अच्छा प्रदर्शन करवा सकें। और  उस पर आने वाली अन्य समस्याओं को देख सकें, और उनका समाधान कर सकें।

[ 1 ]  Blog/website property को google search console में कैसे जोड़े? (Step By Step)

तो दोस्तों अपने डिवाइस के ब्राउज़र में अपना ब्लॉग ओपन करें और ब्लॉग ओपन करने के बाद, आप अपने ब्लॉग डेशबोर्ड पर आ जाएंगे। 

फिर ब्लॉगर डैशबोर्ड में ≡ 'मेनू बार' पर क्लिक करें, ओर 'मेनू बार' में ब्लॉग देखें - ( vew blog ) पर क्लिक करें। और आप अपनी ब्लॉग वेबसाइट के (Home page) पर चले जाएंगे। 

और फिर ब्राउजर सर्च बार से अपने ब्लॉग के कुछ इतने से https://Example.blockspot.com/ ] यूआरएल को कॉपी कर ले। और यदि आपने अपनी ब्लॉग वेबसाइट के लिए डोमेन प्रदाता साइट से कस्टम डोमेन खरीद लिया हैं, और उसेे अपने ब्लॉग से कनेक्ट कर लिया है।

उदाहरणः .com, .in, .org, .xyz या अन्य

तो आपकी blog वेबसाइट का यूआरएल जैसा आपने कस्टम डोमेन अपने ब्लॉग पर कनेक्ट किया है, उस तरह का आपके ब्लॉग का यूआरएल होगा। उस यूआरएल को कॉपी कर ले।

Blogger/Blog Website Property Google Search Console में जोड़े - blog Google Search Console Domain-URL prefix Blogger property Add 2020

और फिर आपको वहां से बाहर निकल जाना हैं, और वापिस अपने ब्लॉगर डेशबोर्ड पेज पर आ जाना हैं।

[ 2 ]  google search console में property Add करना?

और अपने ब्लॉगर डैशबोर्ड पर आने के बाद, ब्लॉगर 'मेनू बार' पर क्लिक करें। और फिर ⚙️ सेटिंग के ऑप्शन पर क्लिक कर ले। और आपके सामने ब्लॉगर सेटिंग पेज ओपन हो जाएगा।

और फिर इस पेज में आपको नीचेे की ओर गूगल खोज कंसोल - (google Search console) का एक ऑप्शन दिखाई देगा, तो आप गूगल सर्च कंसोल विकल्प पर क्लिक कर ले। 

और क्लिक करने के बाद, आप एक नए पेज पर चले जाएंगे। और वहां पर आपको (अभी आजमाना शुरू करें) का एक ऑप्शन दिखाई देगा।

Blogger/Blog Website Property Google Search Console में जोड़े - blog Google Search Console Domain-URL prefix Blogger property Add 2020
Blogger/Blog Website Property Google Search Console में जोड़े - blog Google Search Console Domain-URL prefix Blogger property Add 2020

तो आप अभी आजमाना शुरू करें ऑप्शन पर क्लिक करें। और क्लिक करने के बाद, आपके सामने एक और नया पेज ओपन हो जाएगा। और उस पेज में आपके सामने पॉपअप विंडो में दो ऑप्शन होंगे, और उनके नाम हैं।

• डोमेन

• यूआरएल प्रीफिक्स

तो दोस्तों डोमेन और यूआरएल प्रीफिक्स दोनों में बहुत अंतर हैं, तो चलिए जानते हैं, इनमें क्या अंतर हैं।

• डोमेन

तो दोस्तों यह डोमेन गूगल सर्च कंसोल की एक नई सुविधा हैं और यह पहले उपलब्ध नहीं थी। और यहां पर आपको कुछ इस तरह का डोमेन या सब डोमेन कस्टम यूआरएल डालना पड़ता हैं।

उदाहरणः

डोमेनः sikhoinall.com

सब डोमेनः www.sikhoinall.com

ध्यान देंः Domain विकल्प में आप अपने ब्लॉग डोमेन के साथ https://, http:// या / नहीं जोड़ सकते हैं।

क्योंकि, जब आप डोमेन विकल्प में डोमेन या सब डोमेन जोड़ते हैं। तो डोमेन में आपकी ब्लॉग वेबसाइट के सभी ( m., www., https://, http://) प्रोटोकोल और उप डोमेन शामिल होते हैं।

मान लो आपके ब्लॉग वेबसाइट का पूरा डोमेन ऐसा दिखाई देता है।

https://www.sikhoinall.com/

तो sikhoinall.com आपके ब्लॉग का कस्टम डोमेन है, जिसे आपने डोमेन प्रदाता साइट से परचेस किया है। तो आप अपने ब्लॉग का पूरा यूआरएल गूगल सर्च कंसोल पर डोमेन विकल्प में न जोड़कर केवल कस्टम डोमेन गूगल सर्च कंसोल में प्रॉपर्टी के तौर पर जोड़ सकते है।

और कस्टम डोमेन पर जो https:// और www. प्रोटोकॉल और सब डोमेन लगा है, यह सब भी इसी कस्टम डोमेन का हिस्सा है। इसीलिए आपको अपने डोमेन के लिए अलग-अलग हिस्से जोड़ने की जरूरत नहीं है, और आप एक ही कस्टम डोमेन में सभी प्रोटोकॉल और सब डोमेन की रिपोर्ट एक ही जगह प्राप्त कर सकते हैं।

और इसको सत्यापित करने के लिए, आपको मैटा टैग को थीम में चिपकाने की कोई जरूरत नहीं हैं, क्योंकि यह डोमेन txt रिकॉर्ड से सत्यापित किया जाता हैं।

• यूआरएल प्रीफिक्स

यूआरएल प्रीफिक्स गूगल सर्च कंसोल की पुरानी वाली सुविधा हैं, जोकि बिना कस्टम डोमेन वाली साइटों के लिए उपलब्ध हैं। जिन्होंने अभी तक अपनी वेबसाइट के लिए कस्टम डोमेन नहीं खरीदा हैं। या फिर जिन्होंने अपनी साइट के लिए कस्टम डोमेन नेम खरीद लिया हैं और वह अपनी साइट के पूरे यूआरएल को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ना चाहते हैं।



उदाहरणः https://www.sikhoinall.com/ या https://sikhoinall.Blockspot.com/

ऐसे यूआरएल को आप यूआरएल प्रीफिक्स के जरिए गूगल सर्च कंसोल में जोड़ सकते हैं।

और इसका स्वामित्व आपको मैटा टैग के द्वारा सत्यापित करना होगा, जिसे हमें हमारे ब्लॉग वेबसाइट थीम के <head> सेक्शन में चिपकाना हैं।

तो दोस्तों जैसा कि मैंने ऊपर बताया हैं। इसी अनुसार आपको इन दोनों डोमेन और यूआरएल प्रीफिक्स में से कोई एक ऑप्शन चुनना हैं।

Blogger/Blog Website Property Google Search Console में जोड़े - blog Google Search Console Domain-URL prefix Blogger property Add 2020

और वहां पर आपको अपनी वेबसाइट का यूआरएल डाल देना हैं और नीचे (जारी रखें) ऑप्शन पर क्लिक कर लेना हैं, और आपकी वेबसाइट प्रॉपर्टी गूगल सर्च कंसोल में जोड़ दी जाएगी।

लेकिन अभी भी आपका मालिकाना हक इस वेबसाइट प्रॉपर्टी पर सत्यापित करना बाकी हैं। तो चलिए जानते हैं, कि वेबसाइट प्रॉपर्टी पर अपना स्वामित्व सत्यापित कैसे करें?

और ध्यान दें:- आपकी वेबसाइट गूगल सर्च कंसोल में जुड़ने के बाद, आपको वहां पर आपकी वेबसाइट का डाटा दिखाई नहीं देगा, क्योंकि वेबसाइट का डाटा इकट्ठा करने के लिए। गूगल सर्च कंसोल को कुछ समय लगता हैं और कम से कम 5 से 6 दिनों में आपकी वैबसाइट का डाटा गूगल सर्च कंसोल मैं दिखाई देगा। यानी 1 हफ्ते तक आपको वेट करना हैं।

और सबसे जरूरी गूगल सर्च कंसोल में वेबसाइट प्रॉपर्टी जोड़ने के बाद आपको गूगल सर्च कंसोल में एक साइटमैप सबमिट करनी है।

तो जानने के लिए, कि साइटमैप क्या है? और इसे गूगल सर्च कंसोल पर सबमिट कैसे करते हैं? यहां पर हमारा लेख पढ़ें।

[ 3 ] Blogger Blog website के मालिकाना हक को सत्यापित कैसे करें?

• डोमेन
यदि आपने डोमेन विकल्प में अपनी ब्लॉग वेबसाइट प्रौपर्टी जोड़ी है, तो अपना मालिकाना हक सत्यापित करने के लिए आपको डोमेन प्रदाता साइट पर जाकर txt record सेटअप करना होगा।

और गूगल सर्च कंसोल पर वेरिफाई करना होगा, की आपने जो डोमेन गूगल सर्च कंसोल में जोड़ा हैं, वह आपने खरीदा है।

जब आप डोमेन प्रदाता साइट पर जाकर txt Record सेट अप करके सर्च कंसोल पर verify करेंगे। तो यह सत्यापित हो जाएगा कि डोमेन आपने ही खरीदा है, और आप ही उसके सही मालिक हैं।

तो डोमेन TXT Record के जरिए और यूआरएल प्रीफिक्स में मेटा टैग के जरिए अपना मालिकाना हक सत्यापित करने के लिए आप हमारा यह लेख पढ़े। इस पोस्ट में हमने डोमेन और यूआरएल प्रीफ़िक्स दोनों पर अपना मालिकाना हक सत्यापित करने के बारे में विस्तार से बताया है।


और मुझे उम्मीद हैं, कि आपको मेरी यह पोस्ट अच्छी तरह से समझ में आ गई होगी, और इस पोस्ट के जरिए। आपने अपनघ  ब्लॉग वेबसाइट प्रॉपर्टी को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ लिया होगा, और आपने अपनी वेबसाइट प्रॉपर्टी पर अपना स्वामित्व भी सत्यापित कर लिया होगा, और अगर आपको मेरी यह पोस्ट अच्छी लगी हैं। तो मेरी इस पोस्ट को अपने दोस्तों में शेयर करें और नीचे कमेंट करें कि आपको मेरी यह पोस्ट कैसी लगी।

और अगर आप मेरी वेबसाइट के नए मेहमान हैं तो आप मेरी वेबसाइट को सब्सक्राइब कर सकते हैं, ऊपर ( सदसयता ले ) मैं अपनी ईमेल आईडी डाल कर, मेरी वेबसाइट को सब्सक्राइब कर ले, ताकि आप ऐसी ही लेटेस्ट पोस्ट से हमेशा अपडेट रहे।

टिप्पणियाँ

  1. वेबसाइट को गूगल सर्च कंसोल में जोड़ने वाले तरीके में जब आप कहते हैं कि गूगल सर्च कंसोल के एडिट में जाने पर नए पेज में 'अभी आजमाना शुरू करें' मिलेगा,confusing है.साथ ही इसमें जाने पर फिर एक नया पेज खुलेगा जिसमें डोमेन और यूआरएल प्रीफ़िक्स के ऑप्शन मिलेंगे-ये साफ़ नहीं हैं और दूसरों की तरह ही भटकाने वाले प्रतीत होते हैं.कृपया सुधार करें.महाशय,मुझे मेहनत करनी पड़ी और कई अन्य पोस्ट के तुलनात्मक अध्ययन से मैं तो समझ गया और समाधान निकाल लिया लेकिन औरों का क्या होगा?

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. मुझे लगता है, आपने पहले कभी ना कभी गूगल सर्च कंसोल ने प्रवेश करने की कोशिश की है।

      इसीलिए आप गूगल सर्च कंसोल टूल के बजाय डायरेक्ट गूगल सर्च कंसोल होम पर चले गए थे। जहां पर आपको अपने ब्लॉग प्रॉपर्टी जोड़ने के डायरेक्ट ऑप्शन मिल गए।

      और इसी कारण वस आप मेरी इस पोस्ट को भटकाने की पद्धति का दर्जा दे रहे हैं।

      लेकिन ऐसा नहीं है।

      यदि आप फिर भी सुनिश्चित नहीं है, तो आप नीचे दिए गए लिंक का अनुसरण ऐसे ब्राउज़र में करें, जहां पर आप अपने ब्लॉग मैं log in नहीं है।

      Link: https://search.google.com/search-console/about

      हटाएं
    2. जवाब देने के लिए धन्यवाद.अब अपने पोस्ट में ज़रा गौर करें- १. "गूगल खोज कंसोल" के आगे "संपादित करें" (edit) का ऑप्शन क्लिक करने के बाद, आप एक "नए पेज" पर चले जाएंगे और वहां पर आपको (अभी आजमाना शुरू करें) का एक ऑप्शन दिखाई देगा.
      कमेंट- नए पेज यानि ओवरव्यू पेज पर ये ऑप्शन नहीं मिलता ....परफॉरमेंस शो होता है.साथ ही डोमेन और यूआरएल प्रीफ़िक्स का रास्ता और है....
      २. लेप्ट साइड में ऊपर एक ( ≡ मेनु बार ) का ऑप्शन दिखाई देगा, उस पर क्लिक कर ले। क्लिक करने के बाद सबसे नीचे एक ⚙️ सेटिंग का ऑप्शन दिखाई देगा
      कमेंट- ≡ मेनु बार पर क्लिक करने के बाद ⚙️ सेटिंग नहीं बल्कि परफॉरमेंस,कवरेज और एनहांसमेंट वाला पेज शो होता है.⚙️ सेटिंग तो पहले से ही ≡ मेनु बार वाली साइड में नीचे मौजूद मिलता है.
      कृपया एक बात का खुलासा अवश्य करें- 'जोकि गूगल पर इंडेक्स हैं' और 'जो गूगल सर्च नीतीजो में दिखाई दे रहा हैं और वही आपकी साइट के लिए सही रहेगा' का क्या मतलब है?...... क्योंकि 'व्यू ब्लॉग' के सर्च बॉक्स में दिखता तो www.sikhoinall.कॉम है जबकि कॉपी-पेस्ट करते हैं तो https://www.sikhoinall.कॉम लिखा हुआ होता है.ऐसे में इसे डोमेन के लिए उपयुक्त मानें या फिर यूआरएल प्रीफिक्स के लिए?...क्योंकि डोमेन में पेस्ट करने पर https:// हटाने के इंस्ट्रक्शन मिलते हैं जबकि यूआरएल प्रीफिक्स में एक्सेप्ट कर लेता है.

      हटाएं
    3. मुझे नहीं पता की आप मेरी इस पोस्ट से क्या समझ रहे हैं, या तो आपको समझने में गलती हो रही है। या शायद मुझसे कोई ऐसी गलती हुई है।
      फिलहाल छोड़िए बहुत जल्द यह पोस्ट अपडेट होने वाली इसलिए इसमें जो भी गलती होगी वह जल्द सुधार दी जाएगी।

      आपका एक और सवाल है, जो आपने इस कमेंट में मुझसे पहुंचे लिया। चलिए इसका जवाब जाने लेते हैं।

      प्रश्न 1: जोकि गूगल पर इंडेक्स हैं' और 'जो गूगल सर्च नीतीजो में दिखाई दे रहा हैं और वही आपकी साइट के लिए सही रहेगा' का क्या मतलब है?

      गूगल पर इंडेक्स वही ब्लॉग URL होता है, जो आपकी साइट ओपन होने के बाद ऊपर ब्राउज़र सर्च बाहर में दिखाई देता है। हालांकि ब्राउज़र डायरेक्ट साइट का पुरा URL नहीं दिखाते हैं। लेकिन जब आप ब्राउजर सर्च बार पर क्लिक करते हैं, या URL कॉपी करते हैं, तो आपका यूआरएल पूरा कॉपी होता है, जो गूगल सर्च results के लिए उपलब्ध है।

      आपने पूछा:
      व्यू ब्लॉग' के सर्च बॉक्स में दिखता तो www.sikhoinall.कॉम है, जबकि कॉपी-पेस्ट करते हैं तो https://www.sikhoinall.कॉम लिखा हुआ होता है.ऐसे में इसे डोमेन के लिए उपयुक्त मानें या फिर यूआरएल प्रीफिक्स के लिए?

      अब जरा ध्यान देंः
      domain: विकल्प के अंदर आप अपने ब्लॉग का मैन यूआरएल सबमिट कर सकते हैं, जिसे आपने डोमेन प्रदाता कंपनी से कस्टम डोमेन के रूप में खरीदा है।
      उदाहरण: sikhoinall.com
      यह वह डोमेन है, जिसे मैने किसी थर्ड पार्टी साइट से खरीद कर अपने ब्लॉग पर कनेक्ट किया है।
      भले ही मेंने ब्लॉग में अपना डोमेन कनेक्ट करते समय www. या m., blog. या निम्न उप डोमेन के साथ कनेक्ट किया हो फिर भी आप 'डोमेन विकल्प के अंदर डायरेक्ट sikhoinall.com जोड़ सकते हैं।

      इसके फायदेः
      गूगल का मानना है, की प्रकाशक अपनी साइट के सभी उप डोमेन प्रोटोकॉल जैसे (http://, https://, www., m.) या अन्य जोड़ना पसंद नहीं करते हैं। इसीलिए आप अपने डोमेन के सभी प्रोटोकॉल उप डोमेन की सर्च परफॉर्मेंस रिपोर्ट एक ही डोमेन का हिस्सा है। और इसकी रिपोर्ट सर्च कंसोल में पाने के लिए आप केवल डोमेन का मेंन यूआरएल गूगल सर्च कंसोल में सबमिट कर सकते हैं और उनकी सभी जानकारी सर्च रिजल्ट के बारे में गूगल सर्च कंसोल में एक साथ देख सकते हैं।

      URL prefix: विकल्प आपको अपनी साइट के कस्टम पेज या साइट का पूर्ण URL जोड़ने की अनुमति देता है, जिसमें (http://, https://, www., m.) जैसे निम्न प्रोटोकॉल जो आपकी साइट का हिस्सा है, उसे आप यूआरएल प्रीफिक्स में जोड़ सकते हैं, और उनकी कस्टम रिपोर्ट सर्च कंसोल में पा सकते हैं।

      यदि आपने अपने ब्लॉग के लिए कस्टम डोमेन नहीं खरीदा है, तो भी आप उसे यूआरएल प्रीफिक्स के अंदर जोड़ सकते हैं।

      और यही नहीं URL prefix में आप चाहें तो अपने किसी विशेष पेज की अलग कस्टम सर्च रिजल्ट रिपोर्ट देखने के लिए जोड़ सकते हैं।

      हटाएं

एक टिप्पणी भेजें

क्या आपने इस पोस्ट पर अपना 'Comment' किया है, यदि (नहीं) तो अभी करें।

आपके विचार सार्वजनिक है।

" धन्यवाद "



अब यहां पर खोजें

लोकप्रिय पोस्ट:

अनोखी सेटिंग एक हस्त मोबाइल स्क्रीन? Views 👁50.3k
Post Article लिखकर ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए? Views 👁39.2k
YouTube से पैसे कमाने के Best 3 तरीके? Views 👁35.9k
Mobile से Photo सुंदर बनाने के लिए 10 Best Apps? Views 👁29.8k
YouTube Channel के बारे में जानकारी? SEO Tips Views 👁24.4k
Automatic फोटो Background चेंज Online? Views 👁21.1k
YouTube Channel Subscribe Now »
Facebook Page Following »